भारत के राष्ट्रपति कौन कौन है : Bharat Ke Rashtrapati Kaun Hai 2021

राष्ट्रपति भारत का प्रथम नागरिक होता है तथा देश का का प्रधान होता है। भारत में शुरुआत से अब तक 13 राष्ट्रपति के पद पर रह चुके हैं भारत के राष्ट्रपति का चुनाव लोकसभा तथा राज्यसभा व राज्यों की विधानसभाओं के निर्वाचित सदस्यों द्वारा किया जाता है। अब तक अपने पद पर रहते हुए 3 राष्ट्रपतियों की मृत्यु हो चुकी है।

भारत के प्रथम राष्ट्रपति डॉ राजेंद्र प्रसाद थे तथा वर्तमान में राम नाथ कोविंद जी इन्होंने अपने पद को 25 जुलाई 2017 को धारण किया था। प्रणब मुखर्जी भारत राष्ट्रपति के ऐसे रह चुके हैं जिन्होंने भारत सरकार में किसी मंत्री वित्त मंत्री या विदेश मंत्री रक्षा मंत्री तथा किसी योजना आयोग के सदस्य के रूप में कार्य किया।

प्रणव मुखर्जी ने 13वें राष्ट्रपति के रूप में 25 जुलाई 2012 को राष्ट्रपति पद को ग्रहण किया था। प्रतिभा सिंह पाटिल राष्ट्रपति पद पर रहने वाली प्रथम महिला है जिन्होंने 25 जुलाई 2007 को राष्ट्रपति पद को धारण किया।

अब हम बात करने वाले हैं, कि भारत में अब तक कितने राष्ट्रपति रह चुके हैं, तथा उनका कार्यकाल क्या रहा है तो चलिए शुरू करते हैं।

थोड़ा पहले यह जान लेते हैं कि संविधान राष्ट्रपति के विषय में क्या कहता है

भारत का राष्ट्रपति कार्यपालिका का अध्यक्ष होता है तथा इसी के नाम पर विदेशों में संधियाँ व आयात निर्यात होता है। अनुच्छेद 53 के अनुसार संविधान यह कहता है कि संघ कार्य पालिका की शक्ति राष्ट्रपति में निहित है। देश में राष्ट्रपति के द्वारा आपातकाल की घोषणा की जाती है। राष्ट्रपति मंत्री परिषद की अध्यक्षता करता है।

अनुच्छेद 55 के अनुसार राष्ट्रपति का चुनाव एकल मत संक्रमण पद्धति से किया जाएगा। अनुच्छेद 61 के अनुसार राष्ट्रपति पर महाभियोग प्रक्रिया लगाई जा सकती है।

भारत के राष्ट्रपति कौन हैै :

भारत के राष्ट्रपति कौन कौन है : Bharat Ke Rashtrapati Kaun Hai 2021

डॉ राजेंद्र प्रसाद

डॉ राजेंद्र प्रसाद भारत के प्रथम राष्ट्रपति थे राजन प्रसाद जी एक स्वतंत्रता सेनानी भी रह चुके हैं जिन्होंने देश आजाद कराने के के लिए काफी योगदान दिए हैं। डॉ राजेंद्र प्रसाद कृषि एवं खाद्य मंत्री के पद पर भी रहे हैं। इनका कार्यकाल 3 दिसंबर 1884 से 28 फरवरी 1963 तक रहा। लोग इनको प्यार से राजेंद्र बाबू भी बुलाते थे।

डॉ राजेंद्र प्रसाद के कार्यकाल में भारत के प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू थे तथा उप राष्ट्रपति सर्वपल्ली राधाकृष्णन थे। डॉ राजेंद्र प्रसाद 1934 के दौरान कांग्रेस के मुंबई अधिवेशन मैं अध्यक्ष चुने गए थे। इन्होंने राष्ट्रपति के पद पर 12 वर्षों तक कार्य किया तथा उन्होंने 1962 में अवकाश ले लिया। इसके बाद में इनको भारतीय सर्वोच्च सम्मान भारत रत्न से नवाजा गया। इनकी मृत्यु 28 फरवरी 1963 में हो गई।

डॉक्टर सर्वपल्ली राधाकृष्णन

डॉ राजेंद्र प्रसाद के बाद भारत के दूसरे राष्ट्रपति डॉक्टर सर्व पल्ली राधाकृष्णन बने। इनका कार्यकाल 5 सितंबर 1988 से 17 अप्रैल 1975 तक रहा। यह डॉ राजेंद्र प्रसाद के राष्ट्रपति के कार्यकाल में यह उपराष्ट्रपति के पद पर थे। इन्हीं के जन्मदिवस पर 5 सितंबर को शिक्षक दिवस मनाया जाता है। इस दिन भारत सरकार द्वारा अच्छे शिक्षकों को पुरस्कार दिया जाता है । इनका जन्म 5 सितंबर 1988 में एक तेलुगु बाकी परिवार में हुआ था। 8 मई 1930 को इनका विवाह हो गया उस समय इनकी उम्र मात्र 14 वर्ष थी जिस कन्या से इनका विवाह हुआ उसका नाम सिव कामू था। इनके अच्छे व्यवहार व कार्य की वजह से सर्वश्रेष्ठ भारतीय सम्मान भारत रत्न से नवाजा गया। इनकी मृत्यु 17 अप्रैल 1974 में हो गई उस समय इनकी आयु करीब 78 वर्ष थी।

डॉ जाकिर हुसैन

डॉ जाकिर हुसैन भारत के तीसरे राष्ट्रपति थे उन्होंने डॉक्टर सर्वपल्ली राधा कृष्णन की जगह पर पदभार संभाला तथा इनके कार्यकाल की शुरुआत 13 मई 1967 से लेकर 3 मई 1969 तक रहा। डॉ जाकिर हुसैन पहले ऐसे राष्ट्रपति थे जो मुस्लिम थे। यह अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के कुलपति भी रह चुके हैं। इन्हें 1963 में भारत रत्न से सम्मानित किया गया था। डॉक्टर जाकिर हुसैन राष्ट्रपति पद के पहले बिहार के राज्यपाल तथा देश के उपराष्ट्रपति भी रह चुके हैं। इन्होंने 1956 में भारतीय संसद की सदस्यता ली। इनकी मृत्यु 3 मई 1969 में दिल्ली में हुई थी।

वी. वी.  गिरी

वी वी गिरि का पूरा नाम वराहगिरी वेकेंट गिरी है।  यह अलग-अलग दो बार राष्ट्रपति के पद पर रह चुके है। इन्होंने भारत के चौथे राष्ट्रपति के रूप में कार्य किया। वीवी गिरी भारत के तीसरे उपराष्ट्रपति के पद पर भी रह चुके हैं। इन्होंने राष्ट्रपति के पद पर 24 अगस्त 1969 से लेकर 24 अगस्त  1974 तक रहे। 1975 में इनको भारत रत्न से सम्मानित किया गया। वीवी गिरी को अंग्रेज सरकार ने भारत छोड़ो आंदोलन में जेल में डाल दिया था। इनकी मृत्यु 23 जून उन्नीस सौ 80 में हुई थी।

मोहम्मद हिदायतुल्लाह

मोहम्मद हिदायतुल्लाह भारत के छठे  राष्ट्रपति के रूप में कार्यभार संभाला। इन्होंने भारत के प्रथम मुस्लिम न्यायाधीश के रूप में कार्य किया उन्होंने राष्ट्रपति पद पर रहते हुए मध्यप्रदेश में न्यायाधीश के रूप में कार्य किया। इनका कार्यकाल 31 अगस्त 1979 से लेकर 30 अगस्त 1984 तक रहा। इनकी मृत्यु 18 सितंबर 1992 में हुई थी।

वी. वी. गिरी

वी वी गिरि का यह  दूसरा कार्यकाल था, जिसमें इन्हें राष्ट्रपति के पद पर रखा गया उनका जन्म बरहमपुर उड़ीसा में हुआ था।

फखरुद्दीन अली अहमद

फखरुद्दीन अली अहमद आपातकाल के दौरान भारत के राष्ट्रपति थे तथा इनका कार्यकाल 24 अगस्त 1974 से 11 फरवरी 1977 तक रहा फखरुद्दीन अली अहमद दूसरे ऐसे राष्ट्रपति थे जिनकी मृत्यु कार्यकाल के दौरान हुई थी।

नीलम संजीव रेड्डी 

नीलम संजीव रेड्डी मध्य प्रदेश की पहली मुख्यमंत्री थी जो राष्ट्रपति के पद पर रहे हैं तथा इसके अतिरिक्त वह राष्ट्रपति भवन पर कब्जा करने वाली सबसे जवान रहे हैं। इनका कार्यकाल 25 जुलाई 1977 से लेकर 25 जुलाई 1982 तक रहा।

ज्ञानी जैल सिंह

ज्ञानी जैल सिंह ऐसे राष्ट्रपति थे जो पंजाब के मुख्यमंत्री तथा केंद्रीय गृह मंत्री भी रह चुके हैं। यह 25 जुलाई 1982 से लेकर 25 जुलाई 1987 तक राष्ट्रपति के पद पर रहे।

रामास्वामी वेंकटरमन

रामास्वामी वेंकटरमन ऐसे राष्ट्रपति थे जिन्होंने भारतीय स्वतंत्रता सेनानी के योगदान के लिए तमारा पत्र के रिसीवर हैं या राष्ट्रपति के पद पर 25 जुलाई 1987 से लेकर 25 जुलाई 1992 तक रहे हैं।

शंकर दयाल शर्मा

शंकर दयाल शर्मा राष्ट्रपति पद के पहले वाह भारतीय संचार मंत्री थे तथा मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री भी रह चुके थे इनका कार्यकाल 25 जुलाई 1992 से लेकर 25 जुलाई 1997 तक रहा।

कोचरिल रमन नारायणन

कोचरिल रमन नारयणन ऐसे राष्ट्रपति थे जिन्होंने थाईलैंड तथा तुर्की चीन संयुक्त राज्य अमेरिका में भारत के राजदूत के रूप में कार्य किया। इनका कार्य का 25 जुलाई 1997 से लेकर 25 जुलाई 2002 तक रहा।

अबुल पकिर जैनुलाब्दीन अब्दुल कलाम

एपीजे अब्दुल कलाम भारत के बैलेस्टिक मिसाइल और परमाणु ऊर्जा हथियार के विकास में काफी भूमिका निभाई । इसी वजह से इन को भारत रत्न सम्मान दिया गया था एपीजे अब्दुल कलाम का कार्यकाल 25 जुलाई 2002 से लेकर 25 जुलाई 2007 तक रहा।

प्रतिभा सिंह पाटि

प्रतिभा सिंह पाटिल भारत के पहली महिला राष्ट्रपति हैं । उनका कार्यकाल 25 जुलाई 2007 से लेकर 25 जुलाई 2012 तक रहा है।

प्रणव मुखर्जी

प्रणब मुखर्जी को 1997 में उन्हें सर्वश्रेष्ठ संसदीय पुरस्कार से सम्मानित किया गया था, तथा इनको 2008 में पद्म भूषण से सम्मानित किया गया। प्रणब मुखर्जी का राष्ट्रपति कार्यकाल 25 जुलाई 2012 से लेकर 25 जुलाई 2017 तक रहा।

रामनाथ कोविंद

यह भारत के वर्तमान में राष्ट्रपति के पद पर हैं इन्होंने 25 जुलाई 2017 को राष्ट्रपति पद की शपथ ग्रहण की रामनाथ कोविंद जी ने बिहार के राज्यपाल के रूप में कार्य किया हुआ है राष्ट्रपति चुनाव अब 2022 में होगा।

राष्ट्रपतियों के कार्यकाल की सूची

डॉ राजेंद्र प्रसाद13 मई 1952 से लेकर 13 मई 1962 तक
डॉक्टर सर्वपल्ली राधाकृष्णन13 मई 1962 से लेकर 13 मई 1967 तक
डॉ जाकिर हुसैन13 मई 1967 से लेकर 11 मई 1969 तक
वराह गिरी संकट गिरी3 मई 1969 से लेकर 24 अगस्त 1974 तक
फकरुद्दीन अली अहमद24 अगस्त 1974 से लेकर 11 फरवरी 1977 तक
नीलम संजीव रेड्डी25 जुलाई 1977 से लेकर 25 जुलाई 1982 तक
ज्ञानी जैल सिंह25 जुलाई 1982 से लेकर 25 जुलाई 1987 तक
रामास्वामी वेंकटरमण25 जुलाई 1987 से लेकर 25 जुलाई 1992 तक
शंकर दयाल शर्मा25 जुलाई 1992 से लेकर 25 जुलाई 1997 तक
कोचेरिल रमन नारायणन25 जुलाई 1997 से लेकर 25 जुलाई 2002 तक
एपीजे अब्दुल कलाम25 जुलाई 2002 से लेकर 25 जुलाई 2007 तक
प्रतिभा सिंह पाटिल25 जुलाई 2007 से लेकर 25 जुलाई 2012 तक
प्रणब मुखर्जी25 जुलाई 2012 से लेकर 25 जुलाई 2017 तक
रामनाथ कोविंद25 जुलाई 2017 से लेकर अभी वर्तमान में भी

समाप्त :

इस लेख के माध्यम से हमने आपको भारत के अब तक के राष्ट्रपति कौन है इसके बारे में बताया है यदि आपको हमारे द्वारा दी गई जानकारी पसंद आए तो आप इस लेख को अपने सभी दोस्तों और विद्यार्थियों तक जरूर साझा करें, ताकि उनको भी यह अव्वल दर्जे की जानकारी प्राप्त हो सके और वह भी भारत के अब तक के राष्ट्रपति के बारे में जान सकें धन्यवाद दोस्तों इस लेख को पढ़ने के लिए।

LATEST POSTS

कुतुब मीनार की लंबाई कितनी है? : Qutub/Kutub Minar Ki Lambai Kitni Hai

The Kapil Sharma Show को Ticket Price कितनी है इसका टिकट कैसे लें।

CID और CBI में क्या अंतर है हिंदी में जाने।

Insta Followers से Instagram पर Followers कैसे बढ़ाए।

Leave a Comment