भारत की खोज कब हुई और किसने की थी।

Bharat Ki Khoj Kisne Ki : हम सब जानते हैं की भारत का इतिहास काफी पुराना है। वर्तमान में जो भारत हैं इससे कई ज्यादा बड़ा भारत एक समय में हुआ करता हैं। एक समय था जा अफगानिस्तान, पाकिस्तान, बांग्लादेश और बर्मा जैसे देश भारत का हिस्सा हुआ करते हैं। 

वर्तमान भारत के साथ ही आपको इस लेख के माध्यम से आपको भारत से जुड़ा एक महत्वपूर्ण टॉपिक Bharat Ki Khoj Kisne Ki के बारे में बताने का प्रयास कर रहे हैं। इस लेख में आपको इस के बारे में ही जानकारी दी जाएगी। 

वर्तमान भारत देश के बारे में 

वर्तमान में हम जिस भारत देश की बात करते हैं वो काफी अलग हैं। वर्तमान में हमारे देश में 28 राज्य हैं और 9 केंद्र शासित प्रदेश हैं। देश की केन्द्रीय राजधानी दिल्ली में आई हुई हैं जो स्वयं एक केंद्र शासित प्रदेश हैं। उत्तर से दक्षिण और पूर्व से पच्छिम तक हमारा देश विविधताओं से भरा हैं। 

हमारे देश में एक से अधिक भाषाएँ बोली जाती हैं, एक से अधिक धर्म के लोग एक साथ मिल कर शान्ति से रहते हैं। भारत देश पुरे विश्व में एकमात्र ऐसा हैं जो विविधताओं से भरा हुआ हैं। भारत को यही परंपरा काफी समय से यानी प्राचीन काल से ही चली आ रही हैं। 

भारत की खोज किसने की थी ?

भारत की खोज कब हुई और किसने की थी।

सबसे महत्पूर्ण सवाल की भारत की खोज किसने की ? हालाँकि हम भी आपको जानकारी इन्टरनेट से मिली अन्य जानकारियों के माध्यम से ही दे रहे हैं। भारत के खोजकर्ता कौन हैं ? इसके बारे में आपको जानकारी दे देना ही बनता हैं। 

ऐसा माना जाता हैं या कुछ इतिहासकार ऐसा मानते हैं की भारत की खोज करने पुर्तगाल के एक यात्री वास्कोडिगामा ने की थी। यह जानकारी केवल और केवल इतिहास के पन्नों में स्तिथ हैं। भारत की खोज करने का समय तक़रीबन 1498 का माना जाता हैं। 

भारत का समुद्री रास्ता :

भारत आने के लिए पुर्तगाली समुद्री यात्री वास्कोडिगामा ने केवल समुद्र की तरफ से रास्ता ढूँढा था। भारत का इतिहास तो 1498 से पहले भी था। दुनिया में रहने वाले लोगो की की शुरुआत भी भारत से हुई मानी जाती हैं। वास्कोडिगामा पहली बार भारत केरल के एक बंदरगाह पर पंहुचा था। 

पहली बार वास्कोडिगामा केरल राज्य के कालीकट बंदरगाह पर पंहुचा था। यही वो रास्ता हैं जिसके बारे में वास्कोडिगामा ने पूरी दुनिया के बारे में बताया था। उसके बाद इसी रस्ते से पुर्तगाली और डच देश के नागरिक भारत में आया करते थे। जिस समय वास्कोडिगामा भारत आया था उस समय तत्कालीन भारत के राजा जमोरिन ने वास्कोडिगामा का स्वागत किया था। 

यह भी पढ़ें।

वास्कोडिगामा कौन था ? 

पुर्तगाल के सिंस शहर में जन्मे वास्कोडिगामा एक सक्षम परिवार से सम्बन्ध रखते थे। इनके बारे में कहा जाता हैं की यह वो पहले यूरोपियन थे जो समुन्द्र के रास्ते भारत आये थे। पहली बार जब वास्कोडिगामा भारत आये थे तो उस समय यह समय सीमा थी 1497 से 1499 के मध्य की थी। यूरोप से एशिया आने वाले यह पहले समुद्री यात्री थी जो भारत आये थे और इनकी यही याता भारत की खोज के नाम से जाना जाता हैं।

भारत की खोज इन्होने की थी इसके बारे में कुछ भी कहना जल्दबाजी होगा। कुछ इतिहासकार यह भी मानते हैं की इन्होंने भारत की खोज नही की थी बल्कि यूरोप से भारत आने वाले समुद्री रस्ते की खोज की थी। 

वास्कोडिगामा के भारत की और रास्ते की खोज करते ही यूरोप के भारत की और साम्राज्यवादी उम्मीदों के रस्ते खुल गये थे। 

भारत की खोज कब और कैसे हुई ?

भारत की खोज कब और किसने की इसके बारे में जानना हमारे लिए इसलिए जरुरी हो जाता हैं क्योंकि यह सबसे जरुरी सवाल हैं जो हर किसी के मन में उठता हैं। भारत आने के लिए इन्होने अपनी यात्रा यूरोप से समुन्द्र के रास्ते 8 जुलाई 1497 की शुरू की थी। वास्कोडिगामा ने अपने 4 नाविकों के साथ यात्रा की थी ग्रेबीअल और रफाल जहाज के की सहायता से आये थे। 

इन्होने अपनी यात्रा के दोहरान कई देशों और टापुओं की यात्रा की थी। अपनी यात्रा के दोहरान इन्होने मोजाम्बिक और मोम्बासा द्वीप पर ठहरे थे और उसके बाद वे हिन्द महासागर के रास्ते होते हुए भारत के वर्तमान केरल राज्य के कालीकट बंदरगाह पर 20 मई 1948 को पहुचे थे। इन्ही यह यात्रा लगभग 1 साल और 2 माह में पूरी की थी। 

वर्तमान भारत की भोगोलिक स्तिथि :

वर्तमान में भारत की भोगोलिक स्तिथि की बात करे तो यह तत्कालीन समय से काफी अलग हैं। भारत उत्तर से दक्षिण काफी और पूर्व से पच्छिम की और काफी लम्बाई में फैला हुआ हैं। वर्तमान के पाकिस्तान, अफगानिस्तान, बर्मा, बांग्लादेश यह वो सभी देश हैं जो तत्कालीन समय में भारत का हिस्सा थे। 

वर्तमान में भारत में 28 राज्य और 9 केंद्र शासित प्रदेश है। यह सभी राज्य एक दुसरे से जुड़े हैं। भारत में क्षेत्रफल की दृष्टी से भारत का सबसे बड़ा राज्य राजस्थान हैं। भारत का यह सबसे बड़ा राज्य भारत में 3,42,239 वर्ग किलोमीटर के क्षेत्र को कवर करता हैं। 

भारत एशिया के दक्षिण हिस्से में आया हुआ एक द्वीप हैं जिसकी तीनों सीमायें समुन्द्र से घिरी हुई हैं वही इसकी उत्तरी सीमा हिमालय से बनी हैं। भारत के पडोसी देशों की बात करे तो भारत के पड़ोस में पाकिस्तान, अफगानिस्तान, भूटान, नेपाल, चीन, बांग्लादेश, बर्मा, म्यांमार इतियादी देश हैं जो भारत के साथ स्थलीय और समुन्द्रीय सीमा बनाते हैं। 

भारत वर्तमान में विश्व में :

हम जिस भारत के बारे में वर्तमान में बात करते हैं तो यह विश्व में काफी शक्तिशाली देश बनने की और बढ़ रहा हैं। वर्तमान में भारत की आर्मी भी विश्व की सबसे ज्यादा शक्तिशाली आर्मी की सूची में शामिल हैं। भारत भोगोलिक दृष्टि से भी काफी शक्तिशाली देश हैं। वर्तमान में खेल की दुनिया में भी भारत अपना परचम लहरा रहे हैं। भारत की खोज पन्द्रवी इसवी में वास्कोडिगामा ने, ऐसा माना जाता हैं। उसके बाद से ही यूरोप से लोग भारत की और एवं एशिया की और आने लगे थे और आये थे। 

हमारे आसान भाषा में लिखे इस लेख में आपको Bharat Ki Khoj Kisne Ki के बारे में बताया गया हैं। उम्मीद करते हैं की आपको यह लेख पसंद आया होगा।

यह भी पढ़ें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here